विशेष लेख


Volume-2-8 June, 2018

 

स्वच्छ भारत ग्रीष्मकालीन इंटर्नशिप को लेकर देश भर के युवाओं में जबर्दस्त उत्साह

देश के युवाओं ने स्वच्छ भारत ग्रीष्मकालीन इंटर्नशिप कार्यक्रम को जबर्दस्त समर्थन दिया है. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने स्वच्छता अभियान के लिये एक कदम आगे बढ़ते हुए हाल ही में अपने मन की बातमें स्वच्छ भारत ग्रीष्मकालीन इंटर्नशिप-स्वच्छता के 100 घंटेकी घोषणा की थी. इस कार्यक्रम को मानव संसाधन विकास तथा पेयजल और स्वच्छता मंत्रालयों ने मिल कर चलाया है. स्वच्छ भारत ग्रीष्मकालीन इंटर्नशिप कार्यक्रम के तहत परिवर्तनकारी नौजवान देश के विभिन्न जिलों और समुदायों में स्वच्छता का संदेश फैलाने के लिये एकजुट हुए हैं. इस कार्यक्रम के तहत चलायी जा रही विभिन्न गतिविधियों का मकसद आदत के रूप में स्वच्छता की जरूरत का संदेश फैलाना है. इसके जरिये युवाओं में साफ-सफाई का कौशल और मानसिकता विकसित की जा रही है ताकि उन्हें स्वच्छता अभियान में उल्लेखनीय योगदान करने का मौका मिल सके. कार्यक्रम में हिस्सा लेने वाले सभी युवाओं को इसके पूरा होने और अभिभावक संस्था से मंजूरी मिलने के बाद स्वच्छ भारत इंटर्नशिप प्रमाणपत्र प्रदान किया जायेगा. इसके अलावा महाविद्यालय, विश्वविद्यालय, राज्य और राष्ट्रीय स्तर पर सर्वश्रेष्ठ तीन प्रशिक्षुओं/टीमों की पहचान कर उन्हें पुरस्कृत किया जायेगा. सरकार ने स्वच्छ भारत ग्रीष्मकालीन इंटर्नशिप के लिये आवेदन करने की आखिरी तारीख 15 मई से बढ़ाते हुए 15 जून कर दी है. छात्र और नेहरू युवा केन्द्र संगठन के युवक और युवतियां पोर्टल www.sbsi.mygov.in. पर जाकर इस इंटर्नशिप के लिये आवेदन कर सकते  हैं.