विशेष लेख


Volume-51

युवा पीढ़ी में पढऩे की आदतें उत्पन्न की जानी चाहियें: वेंकैया नायडु

सूचना एवं प्रसारण मंत्री श्री एम वेंकैया नायडु ने नई दिल्ली में सूचना भवन में स्थित मीडिया इकाइयों और उनकी सुविधाओं का अवलोकन किया तथा उनके कामकाज के बारे में जानकारी प्राप्त की. प्रकाशन विभाग द्वारा हाल में शुरू की गई नई पुस्तक दीर्घा का जिक्र करते हुए उन्होंने लोगों से दीर्घा का अवलोकन करने और प्रकाशन विभाग द्वारा संग्रह की गई पुस्तकों का लाभ उठाने का आह्वान किया. उन्होंने कहा कि युवाओं को डिजिटल ऑनलाइन लाइब्रेरी का इस्तेमाल करना चाहिये जिसमें चयनित अभिलेखीय पुस्तकें शामिल हैं जो कि पुस्तक दीर्घा में मुफ्त उपलब्ध हैं. त्वरित संचार के युग में सभी आयु वर्गों के बीच पठन की आदत को प्रोत्साहन करना महत्वपूर्ण है. प्रकाशन विभाग की ये पहल इस दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है. सूचना एवं प्रसारण राज्य मंत्री, कर्नल राज्यवद्र्धन सिंह राठौड़, सूचना एवं प्रसारण सचिव, श्री अजय मित्तल और सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारी मंत्री महोदय के साथ थे.

सूचना भवन में एक आधुनिक और आकर्षक पुस्तक दीर्घा स्थापित की गई है जो कि जनवरी, 2017 से प्रचालन में है. बच्चों को आकर्षक पुस्तकें पढऩे के लिये प्रोत्साहित करने के लिये बच्चों की पुस्तकों का भी एक अलग कोना सृजित किया गया है. दीर्घा में एक पठन कक्ष है जहां पाठक बैठ सकते हैं और पुस्तकें खरीदने से पहले आरामदायक माहौल में प्रदर्शित पुस्तकों का अवलोकन कर सकते हैं.

श्री नायडु ने सूचना भवन में स्थित डीएवीपी स्टूडियो को भी देखा जहां उन्हें संगठन द्वारा क्रिएटिव और अन्य संचार उत्पादों के लिये डिज़ाइन किये गये तौर तरीकों के बारे में अवगत कराया गया. मंत्री महोदय को विशेष तौर पर डीएवीपी द्वारा विभिन्न ग्राहकों के लिये क्रिएटिव डिज़ाइनिंग के लिये प्रयोग किये गये साफ्टवेयर की जानकारी दी गई. उन्होंने कलर केलीब्रेशन तकनीकों और मीडिया प्लानिंग और विज्ञापनों के ऑनलाइन जारी किये जाने की प्रक्रिया से संबंधित मुद्दों में गहन रुचि दिखाई.

इससे पहले श्री नायडू ने सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के इलेक्ट्रॅानिक मीडिया मॉनिटरिंग सेंटर का दौरा किया और स्टाफ  के साथ उनके कार्यों की प्रकृति समझने के वास्ते विचारविमर्श किया तथा प्रसारण क्षेत्र से संबंधित अवसंरचना की समीक्षा की. मंत्री महोदय को मीडिया इकाई द्वारा संचालित कार्य की प्रकृति के बारे में अवगत कराया गया.

मंत्री महोदय ने सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के सोशल मीडिया सेल का भी दौरा किया और सोशल मीडिया प्लेटफार्मों की समीक्षा की.

 

पत्र सूचना कार्यालय