विशेष लेख


Volume-16

सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय
ने स्वच्छता पखवाड़ा मनाया

आनंद सौरभ

सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय ने 16-30 जून, 2017 तक स्वच्छता पखवाड़े का आयोजन किया. मंत्रालय और इसके विभागों तथा कार्यालयों ने इस अवधि के दौरान सरकार के प्रमुख कार्यक्रम स्वच्छ भारत अभियानका संदेश फैलाने और आसपास के इलाकों में साफ-सफाई, स्वच्छता और इन्हें स्वास्थ्य के अनुकूल बनाने के वास्ते विभिन्न गतिविधियां और स्वच्छता अभियान चलाये गये. पखवाड़े के दौरान राष्ट्रीय अनुसूचित जाति वित्त एवं विकास निगम, एनएसएफडीसी की टीम ने पूर्वी दिल्ली में चित्रा विहार के जे जे क्लस्टर की गलियों की सफाई की और सीवर को साफ  किया. एनएसएफडीसी टीम ने जे जे क्लस्टर के निवासियों के बीच साफ-सफाई, स्वच्छता और स्वास्थ्यवद्र्धक जीवन के प्रति घर-घर जाकर जागरूकता अभियान चलाया.
एनएसएफडीसी टीम ने निगम द्वारा सप्लाई किये जा रहे पानी को, विशेषकर बरसात के दिनों के दौरान, शुद्ध करने के वास्ते पानी शुद्ध करने की गोलियां भी वितरित कीं. क्लस्टर के निवासियों की मांग पर एनएसएफडीसी ने जे जे क्लस्टर में कूड़ा कचड़े को इधर उधर फेंकने की बजाए डस्टबिनों में डालने के वास्ते प्रेरित करने हेतु पर्याप्त संख्या में डस्टबिन भी प्रदान कीं.
स्वच्छता पखवाड़ा गतिविधि के भाग के तौर पर राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग वित्त एवं विकास निगम, एनबीसीएफडीसी ने 25 जून, 2017 को राष्ट्रीय राजधानी में शाहपुर जाट गांव में विभिन्न संयुक्त स्थानों पर अस्वच्छता के दुष्प्रभावों और स्वच्छता के महत्व के प्रसार के लिये नुक्कड़ नाटकों का आयोजन किया गया. कम्पोस्टिंग की सुगमता और फायदों के बारे में भी अवगत कराया गया. निवासियों ने रविवार को दोपहर बाद सूर्य ताप के बावजूद कार्यक्रम में शामिल होकर गहन रुचि दिखाई.
24 जून, 2017 को स्वच्छता और कम्पोस्टिंग पर निबंध प्रतियोगिता का भी आयोजन किया. उत्कृष्ट निबंधों को घरेलू कम्पोस्ट यूनिट प्रदान की गई.