विशेष लेख


Special Article 43

नौजवान भारत का शंखनाद : एक भारत, श्रेष्ठ भारत

पीएस मदन कुमार

ब  ड़ी तादाद में नवयुवतियां और नवयुवक 21वें राष्ट्रीय युवा महोत्सव के लिये रोहतक में जमा हुए और समूचा देश एक भारत, श्रेष्ठ भारतके शंखनाद से गूंज उठा. सांस्कृतिक और खानपान की विविधता के इस मेले में सशस्त्र और अद्र्धसैनिक बलों की ताकत का भी दिलफरेब प्रदर्शन देखने को मिला. हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने सुरक्षा बलों की प्रदर्शनी का उद्घाटन करते हुए युवाओं से राष्ट्रीय एकता और अखंडता के संदेश को देश भर में फैलाने की अपील की. उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय युवा महोत्सव से देश भर के 5000 से अधिक प्रतिभागियों और इसमें हजारों की संख्या में रोजाना आने वाले हरियाणावासियों को ज्ञानवद्र्धक प्रदर्शनियों, सांस्कृतिक कार्यक्रमों, लोक कला के प्रदर्शनों और खानपान मेले के जरिये एकजुट भारत के आनंद की अनुभूति का अवसर मिला है. उन्होंने नौजवानों के नेतृत्व में विकास के सपने को साकार करने में युवाओं की सकारात्मक भूमिका को रेखांकित किया. उन्होंने राष्ट्र निर्माण में युवाओं की उत्साहवद्र्धक भागीदारी की सराहना की और उन्हें हर प्रयास में सफलता और गौरवपूर्ण भविष्य के लिये शुभकामनाएं दीं.

हरियाणा के मुख्यमंत्री ने देश के लिये दायित्व निभाते हुए अपनी जान न्यौछावर करने वाले सशस़्त्र और अद्र्धसैनिक बलों के कर्मियों के सम्मान में प्रदर्शनी स्थल पर निर्मित स्मारक पर पुष्पांजलि अर्पित की.

नेहरू युवा केन्द्र संगठन के महानिदेशक मेजर जनरल (अवकाशप्राप्त) दिलावर सिंह ने इस मौके पर कहा कि उनकी संस्था के अलावा हरियाणा सरकार तथा युवा मामले और खेल मंत्रालय के साझा प्रयासों से ही यह महोत्सव सफल हुआ है. सामूहिकता, संपर्कशीलता और सृजनशीलता के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मंत्र ने युवाओं में जोश भर दिया है. इससे एक भारत, श्रेष्ठ भारतसुनिश्चित करने का युवाओं का संकल्प मजबूत हुआ है. उन्होंने बताया कि सालाना राष्ट्रीय युवा महोत्सव में सुरक्षा बलों की प्रदर्शनी को पहली बार शामिल किया गया है. इसने युवा प्रतिभागियों और दर्शकों को सेना, नौसेना, वायुसेना और अद्र्धसैनिक बलों के राष्ट्रीय गौरव का साझीदार बनने का अवसर मुहैया कराया है. मेजर जनरल दिलावर सिंह ने कहा कि यह प्रदर्शनी सीमाओं की हिफाजत में सशस्त्र और अद्र्धसैनिक बलों की सर्वोच्च शहादत की याद दिलाती है. उन्होंने कहा कि केन्द्रीय युवा मामले और खेल मंत्री विजय गोयल ने जो शपथ दिलायी उससे भ्रष्टाचार मिटाने की लड़ाई में युवा पीढ़ी के संकल्प को मजबूती मिली है.

महोत्सव के दौरान युवाओं को नकदीरहित लेनदेन का प्रशिक्षण भी दिया गया. यह युवाओं को काले धन पर रोक लगाने के लिये डिजिटल अर्थव्यवस्था बनाने की ओर निर्देशित करने की एक महत्वपूर्ण पहल थी. नेहरू युवा केन्द्र संगठन के महानिदेशक ने कहा कि महोत्सव में आयोजित स्वामी विवेकानंद पर प्रदर्शनी से युवाओं को विशिष्टता हासिल करने और राष्ट्र निर्माण के प्रयासों में नयी ऊंचाइयों को छूने की प्रेरणा मिली.

 

महोत्सव के दौरान खानपान मेेले में दर्शकों और प्रतिभागियों ने प्रचुर मात्रा में उपलब्ध देश के विभिन्न भागों के लजीज व्यंजनों का लुत्फ उठाया. मेले में गुजराती कढ़ी, पाव भाजी, मसाला डोसा और नगालैंड के कम मसालेदार व्यंजनों की खास तौर से धूम रही.